Inspiring Shayari

Zindagi Bharose Layak Nhi Ki Shayari

Zindagi Bharose Layak Nhi
Written by admin

Zindagi Bharose Layak Nhi Ki Shayari दोस्तो  आज  हम  आप  के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण शायरी ले कर आए हैं दोस्तो जैसे की आप  इस tittle को देख के ही समझ गए होंगे

दोस्तो आज हम बात  भरोसे की करेंगे क्योकि हमारे जीवन मे इसका कितना महत्व हैं वो भी जानेगे जैसा के आप जानते हैं हमारे जीवन  बहुत से लोग आते हैं ओर जाते हैं ओर बहुत लोग हमारे जीवन का हिस्सा बन जाते हैं वैसे ही दोस्तो जीवन मे भरोसा भी बहुत जरूरी होता हैं

भरोसा ऐसा शब्द है जिसके बिना जीवन में एक कदम भी आगे बढ़ पाना मुस्किल है लेकिन यह भी सच है धोखे जैसे शब्द भी भरोसे के साथ ही यात्रा करते हैं। जहां विश्वास है वहीं अविश्वास भी होता है। शायरों ने बड़ी बारीकी से ऐसे आहसासों में लफ़्ज भरे हैं

भरोसा शब्द लोगों के जीवन में बेहद ज़रूरी है क्योंकि इस भरोसे के एहसास पर ही लोग एक-दूसरे के लिए जान तक देने को तैयार हो जाते हैं। इसलिए जानते हैं कि शायरों के अल्फ़ज़ भरोसे पर क्या कहते हैं।

भरोसा पर हिंदी शायरी का सबसे अच्छा संग्रह यहाँ उपलब्ध है, आप इस भरोसा शायरी को अपने वाहट्सएप्प स्टेटस के रूप में उपयोग कर सकतें है या आप इस बेहतरीन भरोसा शायरी को अपने दोस्तों को फेसबुक पर भी भेज सकतें हैं। भरोसा पर हिंदी के यह शेर, आपकी भावनाओं  को व्यक्त करने में आपकी मदद कर सकतें हैं। भरोसा पर शायरी का यहाँ सबसे अच्छा कलेक्शन है

Zindagi Bharose Layak Nhi

 

ग़ज़ब किया तिरे वअ’दे पे ए’तिबार किया
तमाम रात क़यामत का इंतिज़ार किया
~दाग़ देहलवी

 

जब अपना दिल ख़ुद ले डूबे औरों पे सहारा कौन करे
कश्ती पे भरोसा जब न रहा तिनकों पे भरोसा कौन करे
~आनंद नारायण मुल्ला

 

दिल को तेरी चाहत पे भरोसा भी बहुत है
और तुझ से बिछड़ जाने का डर भी नहीं जाता
~अहमद फ़राज़

 

या तेरे अलावा भी किसी शय की तलब है
या अपनी मोहब्बत पे भरोसा नहीं हम को
~शहरयार

 

आदतन तुम ने कर दिए वादे
आदतन हम ने ए’तिबार किया
~गुलज़ार

 

ऐ मुझ को फ़रेब देने वाले
मैं तुझ पे यक़ीन कर चुका हूँ
~अतहर नफ़ीस

 

झूट पर उस के भरोसा कर लिया
धूप इतनी थी कि साया कर लिया
~शारिक़ कैफ़ी

 

तुम सितारों के भरोसे पे न बैठे रहना
अपनी तदबीर से तक़दीर बनाते जाओ
~सदा अम्बालवी

 

भोली बातों पे तेरी दिल को यक़ीं
पहले आता था अब नहीं आता
~आरज़ू लखनवी

 

मिरी ज़बान के मौसम बदलते रहते हैं
मैं आदमी हूँ मिरा ए’तिबार मत करना
~आसिम वास्ती

 

दीवारें छोटी होती थीं लेकिन पर्दा होता था
ताले की ईजाद से पहले सिर्फ़ भरोसा होता था
जब तक माथा चूम के रुख़्सत करने वाली ज़िंदा थी
दरवाज़े के बाहर तक भी मुँह में लुक़्मा होता था
~अज़हर फ़राग़

 

अजब ये दौर आया है कि जिस में
ग़लत कुछ भी नहीं सब कुछ सही है
मुकम्मल ख़ुद को जो भी मानता है
यक़ीं माने बहुत उस में कमी है
~नीरज गोस्वामी

 

तुम्हारे पाँव के नीचे कोई ज़मीन नहीं
कमाल ये है कि, फिर भी तुम्हें यक़ीन नहीं
~दुष्यंत कुमार

 

उसे गुमाँ है कि मेरी उड़ान कुछ कम है
मुझे यक़ीं है कि ये आसमान कुछ कम है
~नफ़स अम्बालवी

 

यक़ीन हो तो कोई रास्ता निकलता है
हवा की ओट भी ले कर चराग़ जलता है
~मंज़ूर_हाशमी

कोई भी नहीं जिस पे भरोसा की जे
याँ लोग बदल जाते हैं मौसम की तरह

Zindagi Bharose Layak Nhi 2020

 

आज मैने अपने प्यार को हारते देखा है,
प्यार पे भरोसा था वो आज टूटते देखा है,
उनको देखकर दिल कभी जो मुस्कुराया करता था,
आज उनसे दूर होकर दिल को मैने रोते देखा है

 

मैंने तुम पर भरोसा किया,
पर तुमने मुझे धोखा दिया।
अब किसी और पे ना भरोसा होगा,
और ना किसी से दोबारा प्यार होगा।

 

रिश्ता ऐसा हो जिस पर नाज़ हो,
कल जितना भरोसा था उतना ही आज हो,
रिश्ता सिर्फ वो नहीं जो गम या खुशी में साथ दे,
रिश्ते वो है जो अपने पन का एहसास दें।

 

दिल तोड़ना हमारी आदत नहीं,
दिल हम किसी का दुखाते नहीं,
भरोसा रखना मेरी वफाओं पर,
दिल में बसा कर हम किसी को भुलाते नहीं।

 

शुक्रिया करते हैं हम रोज तेरा,
चलो क्या हुआ जिंदगी में सुख घट गया,
भरोसा करने का इन आंखों पर जो पर्दा था,
तुम्हें मिलकर वो तो हट गया . . !

 

प्यार की जंग वे लोग ही हारते हैं,
जिन्हें अपने प्यार पर भरोसा नहीं होता,
सच्चे प्यार में सब कुछ मुमकिन होता है,
नामुमकिन कुछ भी नहीं होता।

 

तुम्हारी किस्मत का लिखा,
तुमसे कोई छीन नहीं सकता,
भरोसा हो रब पर तो तुम्हें वो भी मिलेगा,
जो कभी तुम्हारा हो नहीं सकता।

 

मेरे दिल कि सरहद को पार न करना,
नाजुक है दिल मेरा वार न करना,
खुद से बढ़कर भरोसा है मुझे तुम पर,
इस भरोसे को तुम बेकार न करना।

 

भरोसा खुदा पर है तो,
जो लिखा है तकदीर में वही पाओगे,
भरोसा अगर खुद पर है तो,
खुदा वही लिखेगा जो आप चाहोगे !!

 

हमने अपने नसीब से ज्यादा अपने दोस्तों पर भरोसा रखा है,
क्यूँकि नसीब तो बहुत बार बदला है,,
लेकिन मेरे दोस्त अभी भी वही है।

 

नजाकत तो देखिए, की सूखे पते ने डाली से कहा,
चुपके से अलग करना वरना,
लोगों का रिश्तों से भरोसा उठ जायेगा !

 

खूबियां इतनी तो नहीं हम में,
कि तुम्हें कभी याद आएंगे पर इतना तो भरोसा है,
हमें खुद पर कि आप हमें कभी भुला नहीं पाएंगे।विश्वास पर शायरी

 

रखा करो नजदीकियां,
ज़िन्दगी का कुछ भरोसा नहीं,
फिर मत कहना चले भी गए और बताया भी नहीं।

 

भरोसा करें लेकिन सावधानी के साथ,
क्योकि कभी कभी हमारे खुद के दांत भी,
हमारी खुद की जीभ को काट लेते है।

 

मुझे खामोश देखकर इतना,
क्यों हैरान होते हो ऐ दोस्तो,
कुछ नहीं हुआ है बस भरोसा करके धोखा खाया है !

 

प्यार और भरोसा कभी मत खोना क्यूंकि,
प्यार हर किसी से नहीं होता,
और भरोसा हर किसी पर नहीं होता।

 

लोगों के पास बहुत कुछ है मगर मुश्किल यही है कि,
भरोसे पे शक है और , अपने शक पे भरोसा है।

 

जब जब भरोसा किया है मेने, तब तब भरोसा टूटा है मेरा,
अब तो किसी पर भरोसा करने का, मन ही नही करता है मेरा।

 

मेरी निगाह में फिर कोई दूसरा चेहरा नहीं आया,
भरोसा ही कुछ ऐसा तुम्हारे लौट आने का।

 

अपनी मोहब्बत पे इतना भरोसा तो है मुझे ,
मेरी वफायें तुझे किसी और का होने न देंगी।

 

ज़िन्दगी में कभी उदास मत होना
किसी बात पर निराश मत होना
ज़िन्दगी एक संघर्स है चलती रहे गी
अपने जीने का अन्दाज़ मत खोना

 

अगर बिछड़ना नही चाहते हो तो
खुद पर भरोषा करना सीखो
क्युकी सहारे कितने भी मज़बूत हो
कभी ना कभी साथ छोड़ जाते है

 

वो एक तेरा वादा था की हम कभी जुदा ना होंगे
वो बात हम अपने दिल को सुनकर अक्सर मुश्कुराते है

 

जो लम्हा साथ है उसे जी भर के जी लो
कमबख्त ये ज़िन्दगी भरोसे के काबिल नही

 

नशीब से ज्यादा भरोषा तुम पर किया
फिर भी नशीब इतना नही बदला जितना तुम बदल गए

Zindagi Bharose Layak Nhi कविता 

 

वो छोड़ गई मुझे तनहा यादों में
जिसको हर दम माँगा फरियादों में
जो वादे सारे तोड़ गई
खंजर सा दिल में छोड़ गई
नफ़रत तुझसे भी ख़ूब हुई
और सच नफ़रत तुझसे यूँ करता हूँ
जिस राह में तेरा ज़िक्र हुआ
वो राह बदल मैं देता हूँ
फिर कान जो थोड़े खड़े हुए
सुन कर दुनिया की बातें
मैं कुछ – कुछ, कुछ – कुछ सहता हूँ
फिर दिल को संभाले कोने में
ख़ुद से ही यह कहता हूँ
कि जिस राह में तेरा ज़िक्र हुआ
वो राह बदल मैं देता हूँ ..

 

Latest Shayari पाने के लिए हमारे Facebook page को like करे. अगर आपको Zindagi Bharose Layak Nhi in Hindi पसंद आये तो इसे अपनी प्रियजनों को शेयर करे. और हमें comment box में comment करके

About the author

admin

Leave a Comment